आज से खुलेगा इंदौर आरटीओ कार्यालय, जरूरी कार्य के लिए ही आ सकेंगे आम लोग

लॉकडाउन के कारण बंद हुआ इंदौर आरटीओ कार्यालय मंगलवार से फिर खुलेगा। पिछले दिनों परिवहन आयुक्त ने निर्देश जारी किए थे कि जिला प्रशासन की अनुमति के बाद कार्यालय खोले जा सकते हैं। हालांकि इस दौरान सिर्फ जरूरी कामों के लिए ही आम लोगों को आने की छूट होगी।

लॉकडाउन के दौरान 29 और 30 अप्रैल को बीएस-4 वाहनों के बकाया रजिस्ट्रेशन पूरे करने के लिए आरटीओ कार्यालय खोले गए थे। इस दौरान आम लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध था। आरटीओ जितेंद्रसिंह रघुवंशी ने बताया कि मंगलवार को पहले दिन सभी अधिकारी-कर्मचारियों को बुलाकर उनके बकाया कामों की जानकारी निकाली जाएगी। जिनके पास कोई बकाया काम नहीं होगा, उन्हें कुछ दिनों तक नहीं बुलाया जाएगा। जिन अधिकारियों-कर्मचारियों के सेक्शन से जुड़े काम बाकी हैं, वे कार्यालय में आकर काम करेंगे। इस दौरान गाइडलाइन के तहत सिर्फ जरूरी काम के लिए ही आम व्यक्ति कार्यालय आ सकेगा, अन्यथा कार्यालय में आम लोगों और एजेंटों के प्रवेश पर रोक रहेगी।
ड्राइविंग लाइसेंस व फिटनेस के लिए छूट

रघुवंशी के मुताबिक आयुक्त द्वारा जारी गाइडलाइन के मुताबिक प्रारंभिक तौर पर सिर्फ ड्राइविंग लाइसेंस और फिटनेस के लिए ही आवेदकों को आना होगा। जिस आवेदक का लर्निंग लाइसेंस 30 दिन में खत्म हो रहा है, वह टेस्ट के लिए आ सकेगा और जिसका परमानेंट लाइसेंस 30 दिन में खत्म हो रहा है वह नवीनीकरण के लिए आ सकता है। दोनों ही मामलों में अपाइंटमेंट मिलने पर ही आवेदक जा सकेंगे। इसी तरह जिन कमर्शियल वाहनों का फिटनेस खत्म हो गया या हो रहा है, वे फिटनेस टेस्ट के लिए आ सकेंगे। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि जब मुख्यालय से कोरोना के कारण एक्सपायर होने वाले सभी लाइसेंस, फिटनेस की तारीख 30 जून तक बढ़ा दी गई है तो अभी कार्यालय खोलने का कोई प्रमुख कारण नहीं है।

यह कार्य नहीं होंगे:- आरटीओ कार्यालय खुलने के बाद वहां डुप्लीकेट रजिस्ट्रेशन कार्ड, दूसरे राज्यों से लाए गए वाहनों का ट्रांसफर, पते में परिवर्तन, लर्निंग लाइसेंस, डुप्लीकेट लाइसेंस, पता परिवर्तन जैसे काम बंद रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *